शब्द क्या है? शब्द किसे कहते है और शब्द की परिभाषा क्या है?

इस लेख मे विस्तार से जानेंगे की शब्द किसे कहते है, इसकी की परिभाषा, शब्द के कितने भेद है आदि प्रश्न का उत्तर सरल भाषा मे जानने के लिए बने रहिए लेख के अंत तक|

एक से अधिक वर्ण या अक्षर के समूह को शब्द कहा जाता है “, जैसे की –  कलम, आप, रमेश, राजा आदि  को शब्द कहा जाता है |

शब्द किसे कहते है? शब्द की परिभाषा क्या है?

शब्द विचार हिंदी व्याकरण का दूसरा भाग है | वर्ण विचार के बाद ही शब्द विचार आता है | वर्ण से ही शब्द की गठन होता है | अर्थात एक से अधिक वर्ण या अक्षर के समूह को शब्द कहते है, जैसे की – कमल, कलम, आप, रमेश, राजा आदि  को शब्द कहा जाता है |

जैसे की – कमल = क + म + ल, इसमें क, म और ल अलग-अलग वर्ण है और वर्ण को जोड़कर कमल शब्द बनाया गया है |

 

वर्ण किसे कहते है?

किसी भाषा की सबसे छोटी इकाई को ध्वनी  कहते है और उसी ध्वनि की लिखित रूप या चिन्ह  को वर्ण कहते है | जैसे की – अ, आ,क, ख, ग आदि

वर्ण को दो भागो मे भाग किया है – स्वर वर्ण और व्यंजन वर्ण

 

शब्द की भेद या प्रकार कितने है ?

शब्द के भेद अलग-अलग दृष्टि से अनेक भेद किया गया है –

उत्पत्ति के आधार पर शब्द-भेद

प्रयोग के आधार पर शब्द-भेद

अर्थ के आधार पर

व्युत्पत्ति के आधार पर शब्द-भेद

 

साधारण अर्थ के आधार पर शब्द-भेद 

साधारण अर्थ के आधार पर शब्द की दो भेद या प्रकार है-

क) सार्थक शब्द

ख) निरर्थक शब्द

 

क) सार्थक शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द का कोई अर्थ निकलता है उसे सार्थक शब्द कहते है| जैसे की – रजा, खाना, किताब, खाना, दौड़ना, चलना आदि शब्द को सार्थक शब्द कहते है | सार्थक मतलब कुछ मतलब हो अर्थात जिन शब्दों का कोई अर्थ प्रकट हो उसे सार्थक शब्द कहते है |

 

ख) निरर्थक शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द का कोई अर्थ नहीं निकलते है उसे निरर्थक शब्द कहते है| जैसे की -पैसा-सैसा, पानी-सानी

इनमे पैसा के साथ सैसा इसका कोई अर्थ नहीं है, पानी के साथ सानी इसका भी कोई अर्थ नहीं है, इसे निर्थक शब्द कहते है |

 

उत्पत्ति के आधार पर शब्द-भेद

उत्पत्ति के आधार पर शब्द को चार भेद किया है –

क) तत्सम

ख) तद्भव

ग) देशज

घ) विदेशज

 

क) तत्सम शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द संस्कृत भाषा से आए है और जिनका प्रयोग कोई परिवर्तन के बिना हिंदी भाषा मे हो रहा है, उन शब्द को तत्सम शब्द कहते है |

उदाहरण : वायु, अग्नि, पवन, सूर्य, रात्रि आदि शब्द |

 

ख) तद्भव शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द संस्कृत से रूप बदलने के बाद हिंदी भाषा मे आए है उसे तद्भव शब्द कहते है |

उदाहरण – आग (संस्कृत ‘अग्नि’ से), रात (रात्रि से), सूरज (सूर्य से) आदि शब्द |

 

ग) देशज शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द क्षेत्रीय प्रभाव के कारण परिस्थिति या आवश्यकतानुसार नए शब्द बनकर प्रचलित हो गए है उन शब्द को देशज सहबद कहते है |

उदाहरण – पगड़ी, थैला, खैनी, गाड़ी, पेट, आदि शब्द |

 

 घ) विदेशज किसे कहते है ?

आज के दिन मे विदेशी लोगो के संपर्क मे आने से उनकी बहुत सी शब्द हिंदी मे प्रयोग होने लगा है, अर्थात जिन शब्द विदेशी भाषाओ से लेके हिंदी में प्रयोक्त किया गया हो उन शब्द को विदेशज शब्द कहते है |

उदाहरण – टेलीफोन, मोबाइल, स्कूल, रिक्शा, पुलिस, आर्मी, कंप्यूटर, रेडियो, टेलीविज़न, फोटो आदि शब्द |

 

प्रयोग के आधार पर शब्द-भेद

प्रयोग के आधार पर शब्द की दो भेद किया है

क) विकारी शब्द

ख) अविकारी शब्द

 

क) विकारी शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्दों का रूप परिवर्तन होता रहता है, उसे विकारी शब्द कहते है |

जैसे की – खाते है, खाती है, खाते है, मे, मुझे, हमें, घोडा, घोड़े | इनमे संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया विकारी शब्द है |

 

विकारी शब्द के भेद –

विकारी शब्द ओ चार भेद किया है

क) संज्ञा

ख) सर्वनाम

ग) विशेषण

घ) क्रिया

 

ख) अविकारी शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्दों के रूप मे कोई परिवर्तन नहीं होता है, उस शब्द को अविकारी शब्द कहते है | जैसे की – किन्तु, नृत्य, परन्तु, और, यहाँ, उधर आदि शब्द अविकारी शब्द है |

 

अविकारी शब्द के भेद –

अविकारी शब्द को चार भेद किया है –

क) क्रिया -विशेषण

ख) संबंधबोधक

ग) समुच्चयबोधक

घ) विश्मयादिबोधक

 

अर्थ के आधार पर शब्द-भेद

अर्थ के आधार पर शब्द-भेद

  1. पर्यायवाची शब्द
  2. विपरीतार्थक शब्द
  3. समरूप भिन्नार्थक या श्रुतिसम भिन्नार्थक
  4. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द
  5. अनेकार्थी शब्द
  6. एकार्थक प्रतीत शब्द

 

1) पर्यायवाची शब्द किसे कहते है?

जिन शब्दों द्वारा सामान अर्थ प्रकट करता है उसे पर्यायवाची शब्द कहते है उअर इन्हें समानार्थी शब्द भी कहते है |

उदाहरण –

पृथ्वी –   भू, भूमि, धरा, धरती |

इश्वर  – परमात्मा, भगवान, प्रभु |

आग  – अग्नि, अनल |

सूर्य  – सूरज, भास्कर, रवि, आदित्य |

हवा  – पवन, वायु , अनिल |

पर्वत  – पहाड़, गिरि, शैल |

 

2) विपरीतार्थक शब्द किसे कहते है ?

विपरीत अर्थ प्रकट करने वाले शब्द को विपरीतार्थक शब्द कहते या इसे विलोम शब्द भी कहते है |

उदाहरण –

शब्द   –   विलोम

सुख       –    दुःख

अमृत     –   विष

सम्मान   – अपमान

प्रश्न        –  उत्तर

दिन       –   रात

सुबह     –   शाम

 

3) समरूप भिन्नार्थक या श्रुतिसम भिन्नार्थक किसे कहते है ?

जिन शब्द पड़ने और सुनने मे तो सामान या एक ही लगता, लेकिन उसका अर्थ बिलकुल अलग होता है, इन शब्द को समरूप भिन्नार्थक या श्रुतिसम भिन्नार्थक कहते है |

उदाहरण –

मेल  –  एकता

मैल  – गन्दगी

बेल  – लता

बैल  – एक पशु

अनल – आग

अनिल  – वायु

 

4) अनेक शब्दों के लिए एक शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द का प्रयोग पुरे वाक्य या अनेक शब्द के स्थान पर प्रयोग किया जाता है, उन्हें शब्द समूह के लिए एक शब्द या अनेक शब्द के लिए एक शब्द कहा जाता है |

उदाहरण –

जिसका कोई माँ-बाप न हो – अनाथ

जिसका आदि न हो  –  अनादि

जिसका घर न हो   – अघरी

जिसका पति मर गया हो  – विधवा

 

5) अनेकार्थी शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्दों का एक से अधिक अर्थ होता है, उसे अनेकार्थी शब्द कहते है |

जैसे की –

तप  – तपस्या, गर्मी, धुप

हार  – गले का हार, पराजय

कुल  – वंश, मुठ

 

6) एकार्थक प्रतीत शब्द किसे कहते है ?

जिन शब्द देखने मे एक- दुसरे मे पर्यायवाची शब्द लगते है, लेकिन उनका अर्थ मे भिन्नता होता है, उसे एकार्थक प्रतीत शब्द कहते है |

उदाहरण –

अपराध –  सरकारी कानून तोड़ना |

पाप    – धार्मिक नियमो का तोड़ना |

इर्ष्या  – दुसरो की उन्नति देखकर मन मे होने वाली जलन |

द्वेष    – किसी से शत्रुता की भाव |

 

व्यत्पत्ति के आधार पर शब्द-भेद

व्यत्पत्ति अर्थात बनावट के आधार पर

क) रुढ़

ख) यौगिक

ग) योगरुद

 

क) रुढ़ शब्द किसे कहते है?

जिन शब्द अन्य शब्द की योग से बना हो और कोई विशेष अर्थ प्रकट करता है, इन शब्दों को तोड़ने पर कोई अर्थ नहीं होता |

उदाहरण – दल, बल, इनमे द + ल = दल, अगर द और ल को अलग करने पर कोई अर्थ नहीं होता |

 

ख) यौगिक  शब्द किसे कहते है?

जो सार्थक शब्दों के योग से बनता है, उन्हें यौगिक शब्द कहते है | ऐसे शब्द को अलग करने पर उसका अर्थ मूल शब्द के सामान ही होगा  अर्थात दो अलग सार्थक शब्दों के योग से बने शब्द को यौगिक शब्द कहते है |

उदाहरण- देवालय = देव + आलय, डाकघर = डाक + घर, दूधवाला = दूध + वाला |

 

ग) योगरुढ़ शब्द किसे कहते है?

ऐसे यौगिक शब्द जो की सामान्य अर्थ न प्रकट कर किसी विशेष अर्थ प्रकट करे उसे योगरुढ़ शब्द कहते है | ऐसे शब्द को अलग करने पर कोई अलग अर्थ होता है और मिलाने से अलग अर्थ प्रकट होता है |

उदाहरण – दशानन – दशा (दस) + आनन (मुख) वाला -रावण

शब्द विचार के बारे मे हमने क्या सिखा (FAQ or Q&A) 


1) शब्द किसे कहते है? उदाहरण सहित बताएँ |

उत्तर: एक से अधिक वर्ण या अक्षर के समूह को शब्द कहते है,

जैसे की – कमल, आप, रमेश, राजा आदि  को शब्द कहा जाता है |

 

2) तत्सम शब्द किसे कहते है ?

उत्तर:  जिन शब्द संस्कृत भाषा से आए है और जिनका प्रयोग कोई परिवर्तन के बिना हिंदी भाषा मे हो रहा है, उन शब्द को तत्सम शब्द कहते है |

3) शब्द शक्ति किसे कहते है?

उत्तर: प्रत्येक शब्द से जो अर्थ निकलता है, वो अर्थ बोध कराने वाली शब्द की शक्ति है, उसे शब्द शक्ति कहते है |

 

4) सार्थक शब्द किसे कहते है ?

उत्तर:  जिन शब्द का कोई अर्थ निकलता है उसे सार्थक शब्द कहते है| जैसे की – रजा, खाना, किताब, खाना, दौड़ना, चलना आदि शब्द को सार्थक शब्द कहते है | सार्थक मतलब कुछ मतलब हो अर्थात जिन शब्दों का कोई अर्थ प्रकट हो उसे सार्थक शब्द कहते है |

 

5) निरर्थक शब्द किसे कहते है ?

उत्तर:  जिन शब्द का कोई अर्थ नहीं निकलते है उसे निरर्थक शब्द कहते है| जैसे की -पैसा-सैसा, पानी-सानी

इनमे पैसा के साथ सैसा इसका कोई अर्थ नहीं है, पानी के साथ सानी इसका भी कोई अर्थ नहीं है, इसे निर्थक शब्द कहते है |

 

6) वर्ण किसे कहते है?

उत्तर:  किसी भाषा की सबसे छोटी इकाई को ध्वनी  कहते है और उसी ध्वनि की लिखित रूप या चिन्ह  को वर्ण कहते है | जैसे की – अ, आ,क, ख, ग आदि |

वर्ण को  भागो मे भाग किया है – स्वर वर्ण और व्यंजन वर्ण

 

सम्बंधित लेख पड़े⇓

पद किसे कहते है?

वचन किसे कहते है?

लिंग किसे कहते है?

किर्या किसे कहते है?

सर्वनाम किसे कहते है?

अव्यय किसे कहते है?

 

अंतिम अंश

आशा करता हु की हमारी इस लेख शब्द किसे कहते है और इसकी परिभाषा और शब्द की भेद के बारे मे सायद पसंद आया होगा, अगर आपकी मन मे कोई संका या सुझाऊ है तो निचे कमेंट बॉक्स मे लिख सकते है |

Dhan Lama

मे धन लामा आप सभी को Hindiwebjagat.com पर स्वागत करता हु| इस वेबसईट मे Web Technology, Blogging, Educational, GK Trends News आदि के सठिक और सरल लेख उपलब्ध करता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *